2+2 वर्ता: व्यापार और रक्षा को लेकर दोनो देशों के बीच दिखी प्रतिबद्धता

नई दिल्लीभारत-अमेरिका के विदेश और रक्षा मंत्रियों की ‘टू प्लस टू’ बैठक के बाद विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बताया कि अमेरिका के साथ आतंकवाद पर चर्चा हुई है। वहीं भारत-अमेरिका में अहम सैन्य समझौते भी हुए, साथ ही COMCASA पर भी दस्तखत किए गए। उल्लेखनीय है कि आज सुषमा स्वराज तथा रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो तथा रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस के बीच ‘टू प्लस टू’ वार्ता हुई। जवाहरलाल नेहरु भवन स्थित विदेश मंत्रालय में हुई बैठक के पहले करीब एक घंटे स्वराज और पोम्पियो के बीच द्विपक्षीय बैठक हुई। करीब 11 बजे दोनों देशों के रक्षा मंत्री वहां पहुंचे और इसके साथ ही टू प्लस टू रणनीतिक वार्ता आरंभ हो गई।

व्यापार से लेकर रक्षा क्षेत्र पर चर्चा

-दो चरणों में होने वाली इस बैठक में भारत-अमेरिका के बीच रक्षा क्षेत्र में उच्च प्रौद्योगिकी वाले नवान्वेषण एवं व्यापार का रास्ता खुलने तथा हिन्द-प्रशांत क्षेत्र को समावेशी, सुरक्षित, शांतिपूर्ण एवं सबके लिए समान रूप से खुला बनाने के नए रोडमैप पर चर्चा होने की संभावना है।

-भारत हिन्द-प्रशांत क्षेत्र को समावेशी, सुरक्षित, शांतिपूर्ण एवं सबके लिए समान रूप से खुले क्षेत्र के रूप में देखना चाहता है। इसके अलावा आतंकवाद निरोधक कार्रवाई, ऊर्जा सुरक्षा और सामरिक साझीदारी पर बातचीत होने की संभावना है।

-अमेरिका ने गत वर्ष भारत को प्रमुख रक्षा साझीदार का दर्जा दिया था और इस साल सामरिक प्रौद्योगिक समझौता (एसटीए) 1 का दर्जा दे दिया है जिससे दोहरे उपयोग की प्रौद्योगिकी को भारत को बिना रोक-टोक हस्तांतरित करना संभव हो गया है।

कृपया इस पोस्ट को साझा करें!
Leave A Reply

Your email address will not be published.