एक साथ एक जगह से एक करोड़ लोगों को संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री मोदी

दुनिया की अब तक की सबसे बड़ी जनसभा /  वीडियो कॉन्फ्रेंस को संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री मोदी/ एक साथ 15 हजार स्थानों पर जुटेंगे लोग / प्रधानमंत्री से सीधे संवाद की भी है व्यवस्था/ करीब एक करोड़ लोग इसे  देख सकेंगे । इसे मैनेज करने में एक साथ डेढ लाख लोगों की होगी सामूहिक मेहनत।।

नयी दिल्ली। इसे ही कहते हैं तकनीक का चमत्कार। संचार क्रांति के युग में सबकुछ संभव है। इसी के तहत् कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक साथ एक जगह से दुनिया की सबसे बड़ी जनसभा को संबोधित करेंगे। यह अब  तक की सबसे बड़ी वीडियो कॉन्फेंस का संबोधन होगा। प्रधानमंत्री की यह जनसभा एक वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बनने जा रहा हैं। तकनीकी मदद से प्रधानमंत्री के इस जन संबोधन को देश विदेश में एक साथ 15000 जगहों पर प्रसारित इस जनसभा को देखने की व्यवस्था की गयी है। मोटे तौर पर करीब डेढ़ लाख लोग या भाजपा कार्यकर्ताओं की टोली इस प्रसारण को सफल बनाने की कोशिश में लगे हैं।    भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने इस विशेष जनसभा और जनसंबोधन की जानकारी दी हैं। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  देश विदेश में फैले और सक्रिय  भाजपा कार्यकर्ताओं और समर्थकों कल गुरूवार 28 फरवरी को संबोधित करेंगे। जो विश्व की अब तक की सबसे बड़ी वीडियो कॉन्फ्रेंस जनसभा / जनसंबोधन होगा।
भाजपा अध्यक्ष के मुताबिक, इस वीडियो कॉन्फ्रेंस को 15 हजार स्थानों पर एक साथ एक करोड़ से अधिक लोगों के जुड़ने की उम्मीद है, जिन्हें पीएम मोदी संबोधित करेंगे। भाजपा सुप्रीमो अमित शाह ने कहा है कि इसे 15 हजार स्थानों पर कम से कम एक करोड़ भाजपा कार्यकर्ताओं, स्वयंसेवियों और शुभचिंतकों द्वारा पीएम को सुना जा सकेगा। यह संसार की सबसे बड़ी वीडियो कॉन्फ्रेंस होगी। उन्होंने कहा कि लोग नमो एप के जरिए और हैशटैग ‘मेरा बूथ सबसे मजबूत’ पर अपने प्रश्न पूछ सकते हैं। इतनी बड़ी जनसमूह को संचालित नियंत्रित करने और रखने के लिए सैकड़ों सेंटर पर तकनीकी एक्सपर्ट तैनात रहेंगे। तो डेढ लाख से अधिक कार्यकर्ता इसकी व्याख्या करने में लगे हैं। इसके प्रसारण समय को आखिरी घंटों में जाहिर किया जाएगा। बकौल शाह यह आम जनमानस के लिए जनसभा ना होकर कार्यकर्ताओं के बीच आपसी संवाद है, लिहाजा समय को अभी निश्चित नहीं किया गया है। प्रधानमंत्री इस संबोधन को अपने सरकारी आवास या पार्टी कार्यालय से भी प्रसारित कर सकते हैं। दोनों जगहों पर स्टूडियो की व्यवस्था है, लिहाजा समय और प्रधानमंत्री की सुविधा के अनुसार इसकओह फाइनल किया जाएगा। इस जनसंबोधन पर आने वाली लागत पर भाजपा सुप्रीमो ने कहा कि यह एक नि: शुल्क प्रसारण है। सारी व्यवस्था छोड़ बड़े शहरों कस्बों के लोगों ने की है।  ।।

कृपया इस पोस्ट को साझा करें!

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *