तमिलनाडु में जहरीली शराब त्रासदी में अब तक 57 लोगों की मौत, 156 लोगों का चल रहा इलाज

कृपया इस पोस्ट को साझा करें!

समग्र समाचार सेवा
नई दिल्ली, 24जून। तमिलनाडु में कल्लाकुरिची जहरीली शराब त्रासदी में मरने वालों की संख्या बढ़कर 57 हो गई है. अब तक, 156 लोग कई सरकारी अस्पतालों में इलाज करा रहे हैं. कल्लाकुरिची सरकारी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में कुल 110 लोगों का इलाज चल रहा है. जिला प्रशासन ने कहा कि 12 लोगों को पुडुचेरी में भर्ती कराया गया है, 20 लोगों का सेलम में और 4 का विल्लुपुरम सरकारी अस्पताल में इलाज चल रहा है.

अब तक सरकारी कल्लाकुरिची मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में 32 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि सेलम के सरकारी मोहन कुमारमंगलम मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में 18 लोगों की मौत हो चुकी है. पुडुचेरी में सरकारी विल्लुपुरम मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में 4 और जवाहरलाल इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्टग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च (जिपमेर) में 3 लोगों की मौत हो गई है.

एक्शन में सीएम स्टालिन
तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने पीड़ितों की मौत पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि राज्य सरकार उन बच्चों के शैक्षणिक खर्च और छात्रावास की फीस का ख्याल रखेगी, जिन्होंने कल्लाकुरिची जहरीली शराब त्रासदी में एक या दोनों माता-पिता को खो दिया है. साथ ही आरोपियों के खिलाफ कड़ा से कड़ा एक्शन लेने के निर्देश दिए हैं.

विधानसभा सत्र में बोलते हुए, स्टालिन ने कहा कि राज्य सरकार उन बच्चों को 18 वर्ष की आयु तक 5000 रुपये मासिक सहायता प्रदान करेगी. जिन बच्चों ने अपने माता-पिता दोनों को खो दिया है, उनके नाम पर सावधि जमा के रूप में 5 लाख रुपये तुरंत जमा किए जाएंगे.

7 लोग गिरफ्तार
इस बीच, तमिलनाडु पुलिस की सीबी-सीआईडी ​​ने एसपी शांताराम के तहत जांच शुरू की. कल्लाकुरिची कलेक्टर के अनुसार, कल्लाकुरिची जहरीली शराब त्रासदी में 7 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. रविवार को मौत के कारण की पुष्टि के लिए परिजनों को अनुग्रह राशि उपलब्ध कराने के लिए बिना पोस्टमॉर्टम के दफनाए गए मृतकों के शवों को निकाला गया. अवैध शराब पीने के बाद कुल 216 मरीजों को कई अस्पतालों में भर्ती कराया गया, जिनमें से अधिकांश का अभी भी इलाज चल रहा है.

कृपया इस पोस्ट को साझा करें!
Leave A Reply

Your email address will not be published.