चौथे चरण का मतदान आज़/ सारी तैयारियां पूरी, नौ राज्यों के 71 संसदीय सीटों पर हो रहा है आज़ मतदान /

अनामी शरण बबल

नयी दिल्ली। आज सोमवार को होने वाले चौथे चरण के मतदान के लिए सभी जरुरी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। इस चरण में नौ राज्यों की कुल 71 लोकसभा सीटों पर आज वोट डाले जाएंगे। इस दौर में जम्मू एवं कश्मीर के अनंतनाग लोकसभा सीट के कुलगाम जिले में भी मतदान कराए जा रहे हैं। चुनाव आयोग ने इस चरण में भी स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव संपन्न कराने के लिए पर्याप्त इंतजामात किए हैं। 
आज 943 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला होना है। इसमें 33% उम्मीदवार करोड़पति हैं, जबकि 23% उम्मीदवारों पर आपराधिक केस लंबित है। तीन चरणों में अब-तक 303 संसदीय सीटों पर मतदान कराए जा चुके हैं। इस दौर के समापन के साथ 374 संसदीय सीटों पर मतदान समाप्त हो जाएंगे। संसद की कुल 543 संसदीय सीटें हैं।  तीन चरणों में अभी भी 171 संसदीय सीटों पर मतदान बाकी है। सातवें और आखिरी चरण का मतदान 19 मई को होगा।   चुनाव परिणाम के लिए मतगणना   23 मई को होगा और उसी दिन शाम तक चुनाव परिणामों के सार्वजनिक होने की संभावना है। 
सोमवार को जिन चुनाव क्षेत्रों में मतदान होने हैं, वहां रविवार को चुनाव से जुड़े कर्मचारी ईवीएम और वीवीपैट लेकर अपने-अपने निर्धारित बूथों पहुंच चुके हैं। इस चरण में कुल 12.79 करोड़ से ज्यादा मतदाता 943 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करेंगे, जिनके लिए संबंधित राज्यों में 1.40 लाख पोलिंग बूथ बनाए गए हैं।
चौथे चरण में महाराष्ट्र में सबसे अधिक 17, राजस्थान और उत्तर प्रदेश में 13-13, पश्चिम बंगाल में 8, मध्य प्रदेश और ओडिशा में 6-6, बिहार में 5 और झारखंड में 3 लोकसभा क्षेत्रों में चुनाव हो रहे हैं। 
आज के मतदान में यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव, सत्यदेव पचौरी, उर्मिला मातोंडकर, मिलिंद देवड़ा, प्रिया दत्त, गिरिराज सिंह कन्हैया, गजेन्द्र शेखावत, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत, समेत एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार के पोते पार्थ पवार भी मावल सीट पर से राजनीति में एंट्री के लिए खड़े हैं। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे नकुल भी किस्मत आजमा रहे हैं। झारखंड के नक्सली प्रभावित चतरा लोहरदगा और पलामू में आज़ मतदान होगा। पश्चिम बंगाल से बाबुल सुप्रियो और मुनमुन सेन भी चुनावी जंग में खडी है। गौरतलब है कि 2014 लोकसभा चुनाव में इनमें से 63% सीटों पर भाजपा ने जीत दर्ज की थी। इसी प्रदर्शन को इस बार भी दोहराना भाजपा के लिए सरल नहीं लगता। पांचवे चरण का मतदान अब छह मई को होगा। जिसमे 51 संसदीय सीटों पर मतदान होगा। 

कृपया इस पोस्ट को साझा करें!

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *