विश्व कप टूर्नामेंट के बाद रिटायर धोनी की होगी धन बारिश की बैटिंग/ अनामी शरण बबल

नयी दिल्ली। । झारखंड के लाल सबसे बेमिसाल भारतीय टेस्ट  क्रिकेट कप्तान विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी भाग्यशाली और किस्मत के भी बादशाह है। टेस्ट क्रिकेट से रिटायरमेंट के बाद भी वनडे और 20-20 किक्रेट में इनकी बादशाहत कायम है। किक्रेट मैदान में धोनी का बल्ला भले ही खामोश हो चला हो, मगर किक्रेट मैदान के बाहर इनका बल्ला रन की बजाय धन उगल रहा है। किक्रेटर के बाद एक सफल उद्योगपति और मल्टीटाई  बिजनेस में हाथ पांव फ़ैलाते हुए बैटिंग करना चालू कर दिया है। एंटरटेनमेंट बिजनेस में छक्का मारने वाले धोनी अपने साझेदारों के साथ मिलकर फिल्म म्यूजिक  होटल रेस्तरां श्रृंखला समेत आईपीएल क्रिकेट में किसी एक टीम के मालिक की तरह धुंआधार रन और धन बारिश करने की योजना बना रहे हैं। कैप्टन कूल के नाम से विख्यात महेंद्र सिंह धोनी मैदान पर शांत संयमित रहने के लिए जाने जाते हैं, मगर मैदान के बाहर बिजनेस कारोबार और नए- नए कारोबार में चौका- छक्का मारते हुए सबको अचंभित कर दिया है। रांची झारखंड के एक बेहद सामान्य परिवार से आने वाले वाले धोनी आज झारखंड में निजी तौर पर सबसे ज्यादा आय-कर देने वाले नागरिक हैं। संघर्षों की ताप पर मंजने वाले धोनी किक्रेटर के तौर पर नाम की कमाई को कारोबार का रुप दिया है। चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी इस टीम के मालिकों में एक है। इंडियन पैसा लीग के नाम से मशहूर इस लीग के लिए अपनी एक रांची की टीम खड़ी करना चाहते हैं। इसके लिए बी सी सीआई  पर राजनीतिक प्रेशर भी है। संभव है कि अगले दो साल में आईपीएल के साथ चार टीमों को और जोड़ा जाए। जिसमें एक टीम धोनी की रांची और पत्रकार राजनीतिक किक्रेट प्रशासन  से जुड़े राजीव शुक्ला की एक टीम कानपुर से भी हो। रांची शहर समेत झारखंड धोनी की ताकत है और शक्ति भी है। सता और प्रशासन की नजर में भी  धोनी काफी लाडले है। कोई भी काम करा लेना धोनी के लिए सरल है। यही वजह है कि किक्रेट को अलविदा कहने वाले धोनी की लोकप्रियता को कैसे करने के लिए कई कंपनियां धोनी को लेकर नया बिजनेस टेस्ट मैच खेलने के लिए उतावले हो रहे हैं। अपने उपर बनी बायोपिक फिल्म महेन्द्र सिंह धोनी: अनटोल्ड स्टोरी ने पूरे देश में धन की चौकों-छक्कों की झड़ी लगा दी। चारों तरफ सिनेमा नहीं बल्कि धोनी का सिक्का चला। फिल्मी कारोबार को करीब से देखने वाले धोनी एंटरटेनमेंट सेक्टर में भी लप्पेबाजी का मन बनाया। अपने साथ उभरते लोगो की टीम के बूते कमाल करना चाहते हैं। धोनी एंटरटेनमेंट नाम से नयी कंपनी अब अपने चहेतों के मनोरंजन के लिए डांस म्यूजिक स्टेज शो फिल्म  सीरियल  से लेकर कुछ भी करके अपनी बादशाहत बरकरार रखेंगे। धोनी प्रोडक्शन हाउस को बनिजय एशिया के साथ पार्टनरशिप किया है। यह विश्व की सबसे बड़ी इंडीपेंडेंट  कंटेंट बनाने वाली कंपनियों में एक है। इसके साथ कई साझेदार भी धोनी को लेकर नया वेंचर लाएंगे। इस मामले में इतनी बड़ी कंपनियों का इंडिया में पहली इंट्री ऑपरेशन है ‌। इनकी नजर भारत और दक्षिणी एशिया के बाजार पर है। धोनी पर फिल्म बनाने के आइडिया  अरूण पांडेय  का  रहा है। धोनी के कारोबार के नियोजन विकास को साकार करने वाले पांडेय ही मैनेज करने वाले मैनेजर है। किक्रेट कोचिंग भी धोनी का पसंदीदा काम है मगर इसे वे चैरिटी सा केवल टैलेंट उभार के लिए  रखना चाहते हैं। धोनी अपनी बिजनेस पारी को फिलहाल गोपनीय रखना चाहते थे, मगर इतने बड़े और इंटरनेशनल कंपनियों के साथ जुड़ना आज के  मीडिया युग में कहां संभव है भला। कआ: धोनी की और भी ढेरों प्रोजेक्ट पाइपलाइन में हैं। जिसको लेकर खामोशी से काम हो भी रहा है। चेन्नई मुंबई दिल्ली सहित आठ शहरों को अपने कारपोरेट काम को डेवलप करने के बावजूद वे रांची को ही अपना मुख्यालय रखना चाहते हैं, जहां के वे पावरफुल स्टार हैं।
कृपया इस पोस्ट को साझा करें!

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *