तो…अटल बिहारी वाजपेयी के नाम से जाना जाएगा, रामलीला मैदान

नई दिल्ली: दिल्ली के रामलीला मैदान का नाम बदला जा सकता है। रामलीला मैदान का नाम अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर रखने के लिए उत्तरी एमसीडी के 4-5 सदस्यों ने प्रस्ताव दिया है। उत्तरी एमसीडी में 30 अगस्त को प्रस्ताव पर चर्चा होगी।

जानकारी के मुताबिक, रामलीला मैदान का नाम बदलने के लिए पहले प्रस्ताव संबंधित उत्तरी एमसीडी के नेमिंग कमेटी के पास जाएगा। इस नेमिंग कमेटी में मेयर और विपक्ष के नेता समेत 6 सदस्य इस मामले पर चर्चा करेंगे। एमसीडी कमिश्नर प्रस्ताव देने वालों से वजह पूछेगी उसके बाद कमिश्नर की रिपोर्ट पर चर्चा के बाद नेमिंग कमेटी नाम बदलने पर फैसला लेगी।

रामलीला मैदान का नाम बदलने पर अब दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर भाजपा पर तंज कसा है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि, ‘रामलीला मैदान इत्यादि के नाम बदलकर अटल जी के नाम पर रखने से वोट नहीं मिलेंगे भाजपा को प्रधानमंत्री जी का नाम बदल देना चाहिए। तब शायद कुछ वोट मिल जायें। क्योंकि अब उनके अपने नाम पर तो लोग वोट नहीं दे रहे।’

बता दें कि, साल के अंत में चार राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के पहले भारतीय जनता पार्टी शासित राज्यों में विभिन्न जगहों के नाम बदलने का दौर जारी है। मौजूदा मामले में छत्तीसगढ़ की प्रस्तावित नई राजधानी ‘नया रायपुर’ का नाम बदलकर अटल नगर कर दिया गया है।

21 अगस्त को मुख्यमंत्री रमन सिंह ने इस बात का एलान करते हुए कहा था कि अब नया रायपुर की पहचान अब अटल नगर के रुप में होगी। माना जा रह है कि उन्होंने ऐसा पूर्व स्वर्गीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने के लिए किया है।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले, उत्तर प्रदेश के मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन किए जाने के तत्काल बाद राजस्थान के एक गांव का नाम भी बदला गया। बीती 7 अगस्त को बाड़मेर जिले में स्थित मियां का बाड़ा गांव का नाम बदलकर महेश नगर कर दिया गया।

कृपया इस पोस्ट को साझा करें!

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *