जाने आज का पंचांग

कलियुगाब्द……………..5120

विक्रम संवत्…………….2075

शक संवत्……………….1940

मास……………………..आषाढ़

पक्ष………………………..शुक्ल

तिथी……………………चतुर्दशी

रात्रि 11.16 पर्यंत पश्चात पूर्णिमा

रवि………………….दक्षिणायन

सूर्योदय………..05.55.01 पर

सूर्यास्त…………07.11.54 पर

सूर्य राशि…………………..कर्क

चन्द्र राशि…………………..धनु

नक्षत्र………………….पूर्वाषाढ़ा

रात्रि 09.17 पर्यंत पश्चात उत्तराषाढ़ा

योग………………………वैधृति

प्रातः 09.39 पर्यंत पश्चात विष्कुम्भ

करण………………………..गर

प्रातः 10.00 पर्यंत पश्चात वणिज

ऋतु………………………..वर्षा

दिन……………………..गुरुवार

 

आंग्ल मतानुसार :-

27 जुलाई सन 2018 ईस्वी ।

 

राहुकाल :-

दोपहर 02.11 से 03.50 तक ।

 

दिशाशूल :-

दक्षिणदिशा –

यदि आवश्यक हो तो दही या जीरा का सेवन कर यात्रा प्रारंभ करें ।

 

शुभ अंक……………..8

शुभ रंग…………….पीला

 

चौघडिया :-

प्रात: 05.58 से 07.36 तक शुभ

प्रात: 10.53 से 12.32 तक चंचल

दोप. 12.32 से 02.10 तक लाभ

दोप. 02.10 से 03.49 तक अमृत

सायं 05.27 से 07.06 तक शुभ

सायं 07.06 से 08.27 तक अमृत

रात्रि 08.27 से 09.49 तक चंचल |

 

आज का मंत्र :-

|| ॐ धात्रे नमः ||

 

सुभाषितम् :-

महाजनस्य संसर्गः,

कस्य नोन्नतिकारकः।

पद्मपत्रस्थितं तोयम्,

धत्ते मुक्ताफलश्रियम् ॥

अर्थात :-

महापुरुषों का सामीप्य किसके लिए लाभदायक नहीं होता, कमल के पत्ते पर पड़ी हुई पानी की बूँद मोती जैसी शोभा प्राप्त कर लेती है।

कृपया इस पोस्ट को साझा करें!

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *